Tag: shayari

ऊँची हस्तियाँ भी देखीं…

ऊँची हस्तियाँ भी देखीं… हमने ऊँची हस्तियाँ भी देखीं और घनी बस्तियाँ भी देखीं,  आवारगी भी देखी और कड़ी गिरफ़्तियाँ भी देखीं,  उनसे कहो कि हमे उड़ना न सिखाये …

मैं अपने-आप में…

मैं अपने-आप में… गुजरे हुए लम्हों में सदियाँ तलाश करता हूँ,  प्यास गहरी है कि नदियाँ तलाश करता हूँ,  यहाँ सब लोग गिनाते है खूबियां अपनी,  मैं अपने-आप में …