ठोकर ना लगा मुझे…

ठोकर ना लगा मुझे…

ठोकर ना लगा मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं, 
हैरत से ना देख कोई मंज़र नहीं हूँ मैं, 
तेरी नज़र में मेरी कदर कुछ भी नही, 
मगर उनसे पूछ जिन्हें हासिल नही हूँ मैं.

Leave a Reply