काजल तेरी आँखों का…

काजल तेरी आँखों का…

हौंसला तुझमें न था मुझसे जुदा होने का, 
वरना काजल तेरी आँखों का न यूँ फैला होता।

Leave a Reply