औकात की बात मत…

औकात की बात मत…

औकात की बात मत कर पगली… 
हम जिस गली में पैर रखते हैं, 
वहाँ की लड़कियां अक्सर कहती हैं, 
बहारो फूल बरसाओ मेरा महबूब आया है।

Leave a Reply