अश्क़ ही मेरे दिन हैं…

​ ​

अश्क़ ही मेरे दिन हैं…

अश्क़ ही मेरे दिन हैं अश्क़ ही मेरी रातें, 
अश्कों में ही घुली हैं वो बीती हुयी बातें ।

Leave a Reply