अक्स दिल में…

अक्स दिल में…

उसका अक्स दिल में इस कदर बसा है, 
बरसों आँसू बहे मगर तसवीर न धुली।

Leave a Reply